google adsense kya hota h hai

Google adsense kya hota hai

Blogger make money

बहुत सारे लोगो ने google adsense के बारे में सुना होगा कि google adsense kya hota hai ? बहुत सारे लोग गूगल पर सर्च करते है what is google adsense या how to get adsense approval तो हम आपको इस पोस्ट में बताएँगे कि adsense क्या होता है और कैसे adsense से लोग महीने के  लाखो रूपए कमा रहे है |

Google adsense क्या होता है ?

तो दोस्तों हम बात करते है कि adsense होता क्या है , जैसा कि नाम से ही समझ आ रहा है “google adsense” मतलब adsense गूगल का ही प्रोग्राम या प्रोडक्ट है और गूगल के बारे में तो सभी जानते है कि गूगल एक बहुत बड़ी कंपनी है और भरोसेमंद भी है इसका मतलब हम google adsense पर भी भरोसा कर सकते है |

Adsense गूगल का एक पार्टनर प्रोग्राम है जिसके जरिये हम गूगल के पार्टनर बन जाते है गूगल का एक प्रोग्राम और है google ads.

Google ads के जरिये हम गूगल पर अपनी वेबसाइट, प्रोडक्ट, कंपनी, या सर्विस के ads लगा सकते है मतलब google ads के जरिये हम गूगल में advertiser बन जाते है |

और google adsense के जरिये हम गूगल में पब्लिशर बन जाते है मतलब हम जो भी कंटेंट पब्लिश करते है जैसे हमारा कोई blog है उसमे हम आर्टिकल लिखते है तो  google adsense में approval लेकर हम गूगल के ads को हमारे ब्लॉग में लगा सकते है और उन ads को लगाने का हमे गूगल पैसे देता है |

मतलब google ads के जरिये जो भी ads गूगल को मिलते है वो गूगल हमारे कंटेंट पर लगता है और उसका 68 % तक हमे देता है

Adsense में आप banner ads लगा सकते है link ads लगा सकते है और video ads भी लगा सकते है |

इसके लिए adsense के 2 और प्रोग्राम होते है एक adsense तो होता ही है जिसके जरिये ब्लॉग या वेबसाइट पर एड्स लगा सकते है दूसरा आप admob के जरिये आपकी application या games पर भी ads लगा सकते है और तीसरा Youtube partner program के जरिये youtube पर वीडियो अपलोड करके अपने वीडियोस पर भी ads लगा सकते है |

digital markenting kya hota hai

Youtube partner program क्या होता है

Youtube के बारे में तो आप जानते ही है लेकिन आपने बहुत बार ये नोटिस करा होगा कि जब भी आप कोई वीडियो youtube पर देखते है तो वीडियो प्ले होने से पहले आपको एक ad. दिखा है वो youtube partner program के जरिये ही दीखता है | जिस वीडियो पर आपको वो advertisement दिख रहा है उस  चैनल के ओनर ने उस चैनल पर monetization enable कर रखा है |

Youtube का monetization इतनी आसानी से enable नहीं होता उसके लिए youtube नयी नयी policy लाता रहता है , अभी जो क्राइटेरिया है   youtube partner program मे monetization enable करने का उसके लिए आपके चैनल पर 1000 subscribers और 4000 घंटे का watch time होना चाहिए |

Admob क्या होता है

Admob एक अलग प्रोग्राम बनाया गया है जो adsense से ही जुड़ा होता है लेकिन ये सिर्फ application और games में ads लगाने के लिए बनाया गया है adsense के ads आप सीधे application में नहीं लगा सकते इसलिए आप google admob पर approval लेकर  इसके ads अपनी application में लगा सकते है

इसकी खास बात ये है कि इसका approval हमे आसानी से और तुरंत मिल जाता है | इसमें CPC ज्यादा मिलता है |

Google adsense approval कैसे ले

1. सबसे पहले तो आपके ब्लॉग  पर कोई भी copyright content नहीं होना चाहिए, आप कही से भी कुछ भी कॉपी पेस्ट न करे नहीं कोई इमेज जिसमे दूसरी वेबसाइट का लोगो हो अपने ब्लॉग पर न लगाए

2. कम से कम  आपके ब्लॉग पर 10 आर्टिकल तो होने ही चाहिए जिनमे काम से काम 1000 words हो और साथ ही वो आर्टिकल कुछ वैल्यू देते हो ऐसा नहीं है कि कुछ भी लिख कर दाल दो

3. आपके पेज पर कुछ जरुरी पेज होना चाहिए जैसे contact us, about us और privacy policy. आप ब्लॉग पर इन pages को लगाए जिससे आपका ब्लॉग भरोसेमंद लगे |

4. आपका ब्लॉग गूगल पर पब्लिश्ड होना चाहिए और आपके ब्लॉग पर SSL सर्टिफिकेट भी लगा होना चाहिए |ट्रैफिक  से अप्रूवल का कोई मतलब नहीं होता लेकिन earning करने के लिए ट्रैफिक होना जरुरी है |

Adsense मे earning कैसे होती है ?

Adsense 3 चीजों पर काम करता है एक CPC, दूसरा CPM. और तीसरा RPM | आपको तो बस आपके कंटेंट पर ट्रैफिक लाना है उससे आपके ads पर जितने clicks होंगे आपको उतने ज्यादा पैसे बनेंगे और वो कैसे कैलकुलेट हो कर बनते है हम आपको बताते है

CPC – CPC का मतलब होता है cost per click मतलब आपके कंटेंट पर लगे हुए ads पर जब कोई क्लिक करता है तो उस क्लिक का आपको कितना रुपया मिलेगा | जैसा कि मेने बताया था गूगल 68% पब्लिशर को देता है मतलब google ads में उस keyword पर ads का CPC $5 है तो इसका 68% हमे मिलेगा मतलब $3.4 हमारी इनकम हुई 1 क्लिक से |

CPM – CPM का मतलब होता है cost per mile अगर आपके कंटेंट पर  जो ads लगे है उनको 1000 बार देखा गया है तो उसका गूगल आपको कुछ पैसा देगा , उस पर  क्लिक से मतलब नहीं होगा बस आपके ads को इतनी बारे देखा गया उससे मतलब होगा |

RPM – RPM का मतलब होता है revenue per mile या इसे हम ratio per mile भी कह सकते है , adsense खास कर RPM पर ही काम करता है | इसका मतलब होता है कि CPM और CPC का ratio जैसे आपके ads को जब 1000 बार देखा गया तो उस 1000 impressions का आपको कितना पैसा मिला साथ ही उस 1000 बार देखे गए ads में से कितनी बार इन पर क्लिक हुआ और उसका CPC कितना रहा इन सब का ratio निकल कर RPM बनता है |

Google adsense के फायदे

1. आप जितनी चाहे उतनी इनकम कर सकते है कोई पाबंदी नहीं होती

2. अपने घर से काम कर सकते है आपको रोज 9 से 7 ऑफिस जाने वाला काम नहीं होता |

3. आप कही भी चले जाये वहाँ से काम कर सकते है बस आपके पास कंप्यूटर, स्मार्ट फोन और इंटरनेट होना चाहिए

4. आपका कोई बॉस नहीं होता न ही आपको कस्टमर की टेंशन होती है कि वो प्रोडक्ट खरीदेंगे या नहीं

5. Google adsense  सबसे अच्छा ad network है जो सबसे अच्छे पैसे देता है | आप इसको एक साइड इनकम की तरह भी कर सकते है |

2 thoughts on “Google adsense kya hota hai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *